शीघ्र गर्भवती होने के उपाय

How to get pregnant fast in hindi

शीघ्र गर्भवती होने के उपाय

मां बनना हर एक महिला के लिए अनौखा एहसास होता है. और हर एक महिला मां बनना चाहती है. एक महिला का गर्भवती होने से लेकर मां बनने की एक लंबी प्रक्रिया है जिसमें गर्भवती महिला के शरीर में बहुत बदलाव आते हैं. कुदरत के बनाए इस हसीन प्रक्रिया में कुछ महिलायें तो आसानी से मां बन जाती हैं लेकिन कुछ महिलाओं का यह एक लंबा सपना बन जाता है. जो महिलायें आसानी से कन्सीव नही कर पाती उनको फिर यह दर सताने लगता है की वो माँ बन पाएँगी की नहीं. अगर आप भी उन महिलाओं में से हैं जिनको यह डर सता रहा है की आप गर्भ धारण कर याएँगी की नही या फिर आपको गर्भधारण करने में कोई दिक्कत हो रही है हमारी यह पोस्ट शायद आपके लिए फ़ायदेमंद शाबित हो सकती है. अगर आपको गर्भधारण करने में अगर दिक्कत हो रही है या बार बार कोशिश करने के बावजूद आप गर्भ धारण नही कर पा रही हैं तो सबसे पहले आपको और आपके पार्ट्नर दोनों को डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और टेस्ट कराना चाहिए। टेस्ट करने से समस्या का पता लगाने में आसानी होगी. ऐसे कपल्स जिनको इस तरह की समस्या हो उनको डॉक्टर से नियमित चेकअप करना चाहिए.

कई मेडिकल रिसर्च के अनुसार दुनियाभर में करीब 30% कपल्स को कमजोर स्पर्म या लो स्पर्म काउंट होने की समस्या का सामना करना पड रहा है. इसका एक मुख्य कारण आजकल के भागदौड़ भरी ज़िंदगी और खानपान भी है. लो स्पर्म काउंट वाले कपल्स को कंसीव करने में दिक्कत होती है। ऐसे में कपल्स को डॉक्टरी सलाह और चिकित्सा की ज़रूरत पड़ती है. ऐसे में कपल्स को मिलकर एफर्ट्स करना चाहिए और नियमित चेकअप करना चाहिए. उचित खानपान, दिनचर्या, व्यायाम, और बेस्ट पोज़िशन ट्राइ करने से आसानी से गर्भधारण करना आसान हो जाता है. लो स्पर्म काउंट की समस्या वाले कपल्स को शारारिक संबंध बनाते समय बेस्ट पोजिशन ट्राइ करना चाहिए ताकि मेल स्पर्म्स फीमेल सर्विक्स के एकदम पास पहुच सके और कंसीव करने में आसानी हो. सबसे महत्वपूर्ण बात है की ऐसे कपल्स को उन तरीकों को अवॉइड करना चाहिए, जिनसे स्पर्म और एग का मिलन में मुश्किलें आती हो.

गर्भधारण करने के सबसे आसान तरीके

Tips to get pregnant in Hindi

अगर आप भी उन महिलाओं में से हैं जिनको गर्भवती होने में किसी प्रकार की समस्या आ रही है, तो आप इन टिप्स को अपना सकती हैं और और अपने माँ बनाने के सपने को सच कर सकती हैं.

डॉक्टर की सलाह और चिकित्सकीय जांच

Doctor Consultation for pregnancy

तुरंत और आसानी से गर्भवती होने के लिए महिला और उसके पार्ट्नर को नियमित अंतराल में डॉक्टर के पास सलाह और चिकित्सकीय जांच के लिए जाना चाहिए. वैसे तो माँ बनने की कोई फिक्स आयु नही है फिर भी मेडिकल की भाषा में 25-40 की आयु महिलाओं के लिए बेस्ट मानी जाती है. अगर आप स्वस्थ हैं फिर भी गर्भधारण करने के लिए आपको डॉक्टर की सलाह ज़रूर लेना चाहिए. अगर आप शादी के 2 या 3 साल बाद माँ बनाना चाहती है या फिर शादी के 5-6 साल बाद आपको डॉक्टरी सलाह लेना बहुत ज़रूरी होता है. आप डॉक्टर से गर्भधारण के सभी पहलुओं पर भी बातचीत कर सकती हैं और अपने आप को हर तरह की सिचुयेशन के लिए तैयार कर सकती हैं. आपको सेक्स संबंधी कोई समस्या है या नही है इसका पता लगाने के लिए चिकित्सकीय जांच और सलाह की ज़रूरत होती है. अगर कोई समस्या है तो समय के रहते ही उसका इलाज हो सकेगा अगर कोई समस्या है तो उसका समय से पता चल जाएगा और उचित इलाज़ से उसको दूर भी किया जा सकता है.

अपना ओवुलेशन पीरियड जाने

Know your ovulation period

अगर आप ओवुलेशन पीरियड क्या है? ओवुलेशन पीरियड का समय कैसे पहचाने? जैसे प्रशनो का उत्तर जानना चाहते हैं तो हमारी पोस्ट how to know my ovulation period in hindi आपके लिए बहुत इन्फ़ॉर्मेटिव शाबित हो सकती है. हर महिला का ओवुलेशन पीरियड उसके मासिक-धर्म के अनुसार हो सकता है। ओवुलेशन Ovulation उस प्रक्रिया को कहते हैं जब ओवरी (अंडाशय) से अंडाणु निकल कर फैलोपियन ट्यूब में आ जाता है और करीब 24 घंटो के लिए जीवित रहता है. ओवुलेशन पीरियड अगर कोई महिला शारारिक संबंध बनाती है तो उसके प्रेग्नेंट होने की संभावन सबसे अधिक रहती हैं. सामान्यत: मासिक-धर्म के 16वें और 12वें दिनों का समय ओवुलेशन पीरियड हो सकता है । जैसे की अगर किसी महिला का मासिक-धर्म की शुरुआत 30 तारीख को होनी है तो ऐसी महिला का ओवुलेशन पीरियड 14 से 18 तारिख का हो सकता है. इसलिए अगर आपको आसानी से गर्भ धारण करना है तो अपने ओवुलेशन पीरियड का विशेष ध्यान रखें.

बेस्ट पोज़िशन ट्राइ करें

Try best position to get pregnant

अपने ओवुलेशन पीरियड का खास ध्यान रखें जब आपको लगे की आपकाओवुलेशन पीरियड चल रहा है तो उस दौरान अपने पार्ट्नर के साथ शारारिक संबंध बनायें. सबसे महवत्पूर्ण बात है की शारारिक संबंध बनाते समय बेस्ट पोज़िशन ट्राइ करें ताकि मेल स्पर्म्स, फीमेल एग्स से आसानी मिल सके.ओव्युलेशन पीरियड के दौरान एग फलोपियन ट्यूब से यूटरस की तरफ चलना शुरू कर देता है और मुश्किल से 24 घंटों तक जिंदा रहता है. इसलिए आसानी से गर्भ धारण के लिए बेस्ट पोज़िशन ट्राइ करें.

नियमित व्यायाम करें

Regular exercise is good for health

नियमित व्यायाम से शरीर में ब्लड सर्क्युलेशन सही रहता है और शरीर में पॉज़िटिव वेव्स का प्रवाह होता है. नयमित व्यायाम से सेल्फ़ कॉन्फिडेन्स आता है. सेल्फ़ कॉन्फिडेन्स से ही पॉज़िटिव सोच आती है और अगर आपकी सोच ही पॉज़िटिव हो तो शरीर अपने आप स्वस्थ बनता है. स्वस्थ शरीर हर एक महिला के लिए ज़रूरी होता है ख़ासकर जो गर्भधारण करने की सोच रही हो. खानपान का विशेष ध्यान रखें.  हरी सब्जियाँ, फल और सलाद का नियमित सेवन करें. विटामिन की सही मात्रा लें क्योंकि इससे पुरुष-स्त्री दोनों की प्रजनन दर बढती है.

और पढ़ें- प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

प्र्याप्त आराम करें और तनाव-मुक्त रहें

Stress free and healthy lifestyle

रेग्युलर 9-5 की जॉब करने और भागदौड़ करने से तनाव होना लाजमी है. ऐसे में गर्भधारण करना मुश्किल हो जाता है क्यूँ की तनाव की वजह से पुरुषों और महिलाओं में कामेक्षा कम हो सकती है. बहुत ज्यादा तनाव होने पर महिलाओं के मासिक धर्म की प्रक्रिया प्रभावित होती है. अनियमित मासिक धर्म होने किसी भी महिला को अपने ओवुलेशन पीरियड के दिन जानना बहुत मुश्किल हो जाता है.  इसलिए भरपूर आराम करें, शांत वातावरण में रहें और सबसे महत्वपूर्ण बात नियमित व्यायाम करें जिससे आपके गर्भधारण की सम्भावना बढ़ जाती है.

शारारिक संबंध के बाद थोड़ी देर आराम करें

अपने मासिक धर्म की तारीक़ नोट करके रखें ताकि आपको अपने ओवुलेशन पीरियड के दिन पता करने में आसानी हो. ओवुलेशन पीरियड के दौरान शारारिक संबंध बनायें.  शारारिक संबंध बनाने के बाद कुछ देर आप उसी अवस्था में लेटे रहे ताकि यानि खड़े न हो एवं अपनी योनी को साफ न करें ताकि शुक्राणु और अंडाणु का सही से मिलन हो सके. अगर आप संबंध बनाने के कुछ देर तक उसी अवस्था में लाती हुई है तो इससे शुक्राणु और अंडाणु का मिलन आसानी से हो जाएगा. अगर आप संबंध बनाने के तुरंत बाद उठ जाती हैं तो इससे शुक्राणु, अंडाणु से बिना मिले ही नष्ट हो सकता है.

स्मोकिंग और अल्कोहल का सेवन ना करे

Avoid alcohol and smoking

अगर आप गर्भवती होने की सोच रही हैं तो किसी भी प्रकार का नशा ना करें।किसी भी प्रकार का धू्म्रपान करना, मादक पदार्थों का सेवन आपके लिए नुकसान ढायक शाबित हो सकता है क्यूँ की इससे आपके शरीर में हार्मोन का संतुलन बिगड़ सकता है. इसलिए सेफ एंड फास्ट प्रेग्नेन्सी के लिए हर तरह के मादक पदार्थों का सेवन ना करें.

आपको हमारी पोस्ट How to get pregnant in Hindi शीघ्र गर्भवती होने के उपाय कैसी लगी कॉमेंट कर ज़रूर बताए. इस पोस्ट को Twitter, Facebook और Google plus पर शेयर करें.

Leave a Comment