अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2019

विश्व योग दिवस Yoga Day 2019

स्वास्थ के प्रति जागरूक और सजग बनाने के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र द्वारा योग को हर वर्ष २१ जून को अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप में मानने की घोसना की. 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र द्वारा २१ जून को दिन विश्व योग दिवस घोसित किया गया. वैसे तो योग भारतीय संस्कृति की लिए नया नही हैं. ऋषि मुनियों के समय से ही योग क्रिया चली आ रही है लेकिन संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रति वर्ष २१ जून को विश्व योगा दिवस घोषित करने से विश्व में योग के प्रति लोग ज़्यादे सजग, उत्साहित, और समर्पित हुए हैं.

योग क्या है? Yoga in Hindi

Yoga in Hindi

योग का शाब्दिक अर्थ होता है जोड़ना या बाँधना या एकता. शरीर, मन और भावनाओं को आपस में जोड़ने या बाँधने की कला को ही योग कहते हैं.

योग एक व्यायाम की क्रिया है जिससे एक इंसान को मानसिक, शारीरिक और आध्यात्मिक सकुन प्राप्त होता है. योग करने के लिए किसी भी प्रकार के मशीनी औजार की ज़रूर नहीं पड़ती. योग कभी भी कहीं भी किया जा सकता है. प्रतिदिन योग करने से हर इंसान के शरीर को तरह की बीमारियों से लड़ने की शक्ति प्राप्त होती है. योग ना केवल इंसान को शारारिक मजबूती प्रदान करता है बल्कि मानसिक शक्ति भी प्राप्त होती है जो की आजकल की भागदौड़ वाली लाइफ स्टाइल के लिए बहुत ही ज़रूरी है. सुबह-सुबह रोजाना योग करने से शरीर स्वस्थ होता है और दिनभर शरीर में जोश और उत्साह रहता है.

योग के प्रकार – Types of Yoga in Hindi

योग के 4 प्रमुख प्रकार हैं जो युगों से चले आ रहे हैं-

  1. राज योग
  2. कर्म योग
  3. भक्ति योग
  4. ज्ञान योग

योग करने का सही समय

Best Time to do Yoga Practice

वैसे तो योग कभी भी किया जा सकता है इसके लिए को फिक्स टाइम नही हैं लेकिन सुबह सूर्योदय से पहले एक से दो घंटे योग के लिए सबसे अच्छा समय माना गया है क्यूंकी उस समय हवा साफ और ताज़ा होती है और शरीर भी आरामदायक स्थिति में होता है. अगर सुबह आपके लिए योग करना मुमकिन ना हो तो सूर्यास्त के समय भी कर सकते हैं. लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है-

  1. प्रतिदिन योग का समय निर्धारित कर लें
  2. योग मैट या दरी बिछा कर ही करें
  3. योग खुली जगह जैसे पार्क या घर की छत में कर सकते हैं
  4. योग की क्रियायें धीरे धीरे और आसान तरीके से शुरूवात करें
  5. योग किसी एक्सपर्ट से ज़रूर सीखें या सलाह लें

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2019

International Yoga Day 2019 in Hindi

Fifth International Yoga Day 2019- हर साल की तरह साल 2019 में भी विश्व योगा डे 21 जून को मनाया जाएगा. हर साल की तरह इसका आयोजन करने वाले सभी योग संस्थान अभी से इसके आयोजन को लिए उत्साहित हैं और जोरो सोरों से इसकी तैयारियों मेंलगे हुए हैं. विश्व योग दिवस यानी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस इस साल २१ जून को मनाया जाएगा. इस साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का  पाँचवा संकरण है जिसे विश्वभर में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाएगा. चौथा संकरण  पिछले साल देहरादून में आयोजित किया गया था.

Yoga Day 2019 Theme

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस थीम 2019

NOTE: The venue & Theme of International Yoga Day 2019 currently not decided by the Ministry of Ayush.

 अंतरराष्ट्रीय योग दिवस थीम- International Yoga Day 2018 Theme ” Yoga For Health”

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2018 देहरादून

देहरादून जो की अपनी खूबसूरत घाटियों और स्वच्छ मौसम के लिए प्रसिद्द है साल 2018 मेंअंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मेजबानी किया था. वन अनुसंधान संस्थान देहरादून (फोरेस्ट रिसर्च इन्स्टिट्यूट Forest Research Institute) ) में आयोजित हुए विश्व योगा दिवस में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी भाग लिए जिसमें करीब 60000 हज़ार लोग हिस्सा बने थे. जब से ही अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की घोषणा हुई है तब से हर साल प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी इसके आयोजन में हमेशा नज़र बनाए हुए हैं यही कारण है की योग का महत्व वशभर में बढ़ा है.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2018 थीम था “स्वास्थ के लिए योगा” यानी “Yoga for Health“.

विश्व योग दिवस का इतिहास

International Yoga Day History in Hindi

साल २०१४ में अपने पहले भाषण के दौरान नरेन्द्र मोदी ने यू.एन. की आम सभा से कहा कि “भारतीय परंपरा का एक अनमोल उपहार है.” योग से विश्वभर में शांति का संदेश दिया जा सकता है. और योग आज के समय में विश्वभर के लोगों के लिए बहुत ही ज़रूरी है क्यूंकी योग शरीर और मान दोनो को आपस में जोड़ कर रखता है. जो की हर एक आदमी की आत्म शांति के लिए बहुत जरूरी है.

भारत सरकार की अनेकों कोशिशों के बाद साल 2014 की 11 दिसंबर तारीख को संयुक्त राष्ट्र आम सभा द्वारा हर वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस या विश्व योग दिवस के रुप में पूरे विश्वभर में मानने की घोषणा की गयी. इस तरह 21 जून 2015 को पहली बार विश्व योग दिवस का आयोजन किया गया.

साल

आयोजन स्थल

2015

राजपथ, नई दिल्ली

2016

चंडीगढ़

2017

लखनऊ

2018

देहरादून

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य

Goal of International Yoga Day

योग के महत्व पूरी दुनिया ने जाने हैं और माने भी हैं. योग को मिले विश्वव्यापी पहचान के लिए इसकी सरलता है आसानी है. बिना खर्चे के स्वस्थ रहने का तरीका है योग. विश्व योग दिवस के अनेको उद्देश्य हैं-

  1. योग विश्व शांति के लिए बहुत ही ज़रूरी है
  2. योग स्वस्थ रहने का सबसे आसान और बिना खर्चे का तरीका है
  3. योग द्वारा लोगों को प्रकृति से जोड़ना
  4. योग शारारिक मजबूती और आत्मविश्वास के लिए ज़रूरी है
  5. पूरे विश्व भर में स्वास्थ्य चुनौतीपूर्ण बीमारियों की दर को घटना
  6. वैश्विक समन्वय और तालमेल के लिए

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस और रोज़गार

Yoga Day Has Created a New Job Market

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस या विश्व योग दिवस के कारण योग सीखने वालों की माँग विश्वभर में बढ़ी है. स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में योग टीचर्स की भारी माँग बढ़ी है और साल दर साल यह बढ़ती ही जाएगी. स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में योग विषय पर क्लास चल रही हैं योग टीचर्स की नयी जॉब्स आ रही हैं. यह सब अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के कारण ही संभव हो सका है.  योग आज हर किसी की लिए ज़रूरी हो गया है. हर किसी के लिए जिम जाना आसान नही हैं. भागदौड़ की इस लाइफ स्टाइल के कारण हर किसी के पास समय नहीं है की वो रोज जिम के लिए समय निकल सके. इसलिए लोग योग को आसानी से आपना रहे हैं क्यूँ की योग कहीं भी किया जा सकता है वो भी बिना किसी खर्चे के. योग सबसे आसान और किफायती तरीका है अपनेआप को फिट और कॉन्फिडेंट रखने का.

COMMENTS

Leave a Comment