रजनी क्यूँ बोले छोड़ दूंगा राजनीति

नई दिल्ली- 31 Dec 2017- दक्षिण के सुपरस्टार रजनीकांत भारत में कौन नहीं जानता.  बहुत दिनों से कयास लगाए जा रहे थे की रजनी अपनी राजनीति की शुरूवात कर सकते हैं और हुआ भी ऐसा ही. आज 31 दिसंबर 2017, रजनीकांत ने अपनी नई पार्टी बनाने की घोषणा की और कहा कि उनकी पार्टी तमिलनाडु के आगामी विधानसभा चुनावों में सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी चाहे परिणाम कुछ भी हों. रजनी ने नई पॉलिटिकल पार्टी बनाने के साथ ही अपनी राजनीतिक पारी की शुरूवात कर दी और अपनी राजनीतिक पारी की समय सीमा भी तय कर ली है. मीडीया के सवालो का जबाब देते हुए रजनी ने कहा कि अगर वह लोगों की उम्मीदों पर खरे नहीं उतर सके तो तीन साल में ही राजनीति से संन्यास ले लेंगे. और फिर से अपनी फिल्म इंडस्ट्री में लौट जाएँगे.

इस मौके पर रजनीकांत ने भगवद्गीता के श्लोक का उदाहरण दिया. और कहा की जिस तरह भगवद्गीता में बोला गया है कि इंसान को कर्म करना चाहिए और फल की चिंता ईश्वर पर छोड़ देनी चाहिए. में भी इसी को फॉलो करूँगा और अपने फैंस और जनता के बीच जाऊँगा उनकी समस्याओं को सुनूँगा और उनको सॉल्व करने की कोशिश करूँगा. यहाँ श्री राघवेंद्र कल्याण मंडपम में अपने फैंस से मुलाकात के बाद रजनी ने कहा, ‘मेरा राजनीति में आना तय है. यह आज की सबसे बड़ी जरूरत है.’

रजनीकांत के राजनीतिक पार्टी का ऐलान करने के साथ ही तमिलनाडु की राजनीति में एक नई पार्टी का जन्म हो गया है. रजनीकांत ने कहा कि वह तमिलनाडु की जनता की सेवा करना चाहते हैं और अपना कर्तव्य निभाना चाहते हैं. राजनीतिक दवाव होने का सवाल पूछने पर वह बोले की वो कायर नहीं है और वह पीछे नहीं हटेंगे और राजनीति में आकर लोगों के कुछ अच्छा करना चाहते हैं. उन्होने कहा की उनके जीवन सफल बनाने में कई लोगों का सहयोग है. उन्होंने वरिष्ठ पत्रकार चो रामास्वामी को अपना मेंटर बताया है.

बहुत उतार चढ़ाव वाला रहा रजनी के शुरूवाती दिन

Rajinikanth wiki in hindi

Interesting facts about Rajnikanth

रजनी का जन्म 12 दिसंबर, 1950 को बेगंलूरू के एक मराठा परिवार में हुआ. उनका असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है. उनके पिता पुलिस कॉनस्टेबल थे.  पढ़ाई के कारपेंटर, कुली और बस कंडक्टर का काम भी किया. 1973 में मद्रास फ़िल्म इंस्टिट्यूट में एडमिशन लिया ताकि अपनी एक्टिंग प्रतिभा को और निखार सकें.उनका पहला ड्रामा तमिल में आया सन 1975 में आया. उस ड्रामा का नाम था “अपूर्वा रागंगाल”. इसके बाद उन्होने तमिल फिल्मों में उन्होंने कई यादगार किरदार किये है. तमिल में एक के बाद अनेकों सुपेरहित मूवीस और ड्रामे देने के बाद रजनी ने और भी कई मंहगी कमर्शियल फिल्मो में बतौर मुख्य कलाकार काम किया है।

आइए जानते हैं रजनीकांत के बारे में कुछ खास बातें है

Amazing facts about rajinikanth in Hindi

  1. रजनीकांत का जन्म 12 दिसंबर, 1950 को मैसूर (बेगंलूरू) के एक मराठा परिवार में हुआ.
  2. रजनीकांत का असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है. लोग इनको थलाइवा के नाम से भी पुकारते हैं.
  3. करियर शुरू होने से पहले उन्होने कई जॉब की जिनमें पढ़ाई के कारपेंटर, कुली और बस कंडक्टर की जॉब भी शामिल है.
  4. रजनीकांत को एक्टिंग का शौक रामकृष्ण परमहंस मिशन मठ से हुआ जहाँ उन्होने ‘एकलव्य’ नाटक में एक एक रोल किया और यहीं से उन्हें शौक लग गया.
  5. रजनीकांत की शुरुआती तमिल फिल्म ‘अपूर्वा रागंगल (1975)’ थी.
  6. तमिल फिल्म इंडस्ट्री में रजनीकांत और कमल हासन ने कई फिल्मों में साथ काम किया.
  7. 1977 में आई तमिल फिल्म चिलकम्मा चेप्पिंडी में रजनी ने बतौर मेन लीड काम किया.
  8. रजनीकांत ने बॉलीवुड में भी काम किया जिनमें उनकी सुपरहिट फिल्म ‘अमर अकबर एंथनी’ और ‘रोटी कपड़ा और मकान’ शामिल है.
  9. हाल ही आई उनकी फिल्म काबुली ने बहुत अच्छा बिज़्नेस किया था और अब उनकी आने वाली फिल्म है 2.0 जिसमें अक्षय कुमार भी हैं.

अब देखना यह है की फिल्म की तरह राजनीति में रजनी कितना सफल होतें है. ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा लेकिन नयी राजनीतिक पार्टी बनाकर फिलहाल तो उन्होने कइयों के होश उड़ा दिए हैं.

Leave a Comment