स्वस्थ कैसे रहें? Swasth Kaise Rahe

स्वस्थ कैसे रहें जानकारी हिन्दी में

Swasth Kaise Rahe Jankari

आजकल की भागदौड़ वाली लाइफस्टाइल से कोई भी अछूता नही है. चाहे वो को 9 से 5 वाली जॉब करता हो या अपना बिज़्नेस करता हो या फिर कोई भी स्टूडेंट ही क्यूँ ना हो, हर कोई अपने आपको कॉंपिटेशन की दौड़ में बनाए रखने की होड़ में अपने लाइफ स्टाइल में ध्यान नही रख पाता जिसका असर हमारे शरीर में दिखाने लगता है. अगर आप भी इसी तरह के सवालों जैसे की स्वस्थ कैसे रहे Swasth Kaise Rahe? शरीर स्वस्थ कैसे रखे Sharir swasth kaise rahe? हम स्वस्थ कैसे रह सकते? Hum swasth kaise rah sakte अपने आप को फिट कैसे रखे? Apne aap ko fit kaise rakhe अपने आप को मोटीवेट कैसे करे? Apne aap ko motivate kaise kare स्वस्थ रहने के नियम? swasth rahne ke niyam से घिरे हुरे हैं तो हमारी यह पोस्ट आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है. इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको स्वस्थ रहने के आसान तरीके Swasth rahne ke aasan tarike बताएँगे जिनको आप आसानी से फॉलो कर सकते हैं वो भी बिना खर्चे के.  वैसे तो स्वस्थ रहने के तरीके Swasth rahne ke tarike बहुत से हो सकते हैं लेकिन यहाँ हम केवल उन तरीक़ो को बताएँगे जिनको आप बहुत ही कम समय में कर सकते हैं और अपने आप को फिट और तंदुरुस्त रख सकते हैं. तो अब आप सोचना कम करो आज से ही स्वस्थ रहने के इन आसान टिप्स swasth rahne ke aasan tips hindi mai को अपनायें.

प्रतिदिन व्यायाम करें- Vyayam Kare in Hindi

प्रतिदिन व्यायाम करें- Hindidainik.com

व्यायाम कैसे करें? vyayam kaise kare व्यायाम कैसे किया जाता है? vyayam kaise kiya jata hai व्यायाम कैसे किया जाए? vyayam kaise kiya jay व्यायाम कैसे करना चाहिए vyayam kaise karna chahiye? घर पर व्यायाम कैसे करे Ghar par vyayam kaise kare. ऐसे बहुत से सवाल हैं जो आप अपने आप से रोज करते होंगे? ऐसे सवालों का केवल एक ही जबाब होता है वो है “हाँ मुझे आज से ही यह काम शुरू करना है” वाला मजबूत इरादा. अगर आपने प्रतिदिन व्यायाम करने का द्रढ, मजबूत और साहसी निर्णय बना लिया तो फिर इसको फॉलो करना भी अपने आप में चॅलेंजिंग होता है. हम प्रतिदिन व्यायाम करने को द्रढ, मजबूत और साहसी निर्णय इसलिए कह रहे हैं की क्यूँकी हम में से बहुत से लोग शुरूवात में तो बहुत ज़ोर शोर से फॉलो करते हैं लेकिन फिर बहुत जल्दी ही उस रुटीन को प्रॉपर फॉलो नही कर पाते. प्रतिदिन व्यायाम करने का रुटीन अगर फिक्स हो गया तो यकीन मानिए आपको किसी तरह की शारारिक कमज़ोरियाँ नही होंगी. क्यूंकी आपका शरीर आपके बारे में सब कुछ बयान कर देता है. एक स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ और पॉज़िटिव विचार आ सकते हैं जो की हर किसी के लिए बहुत ज़रूरी होते हैं.

योगा करें- Yoga Yoga Tips in Hindi

योगा करें- hindidainik.com

योगा नाम आते ही दिमाग़ में पहला प्रश्न आता है की योगा कैसे किया जाए? Yoga kaise kiya jaye योगा के विभिन्न प्रकार कैसे होते हैं? Yoga kitne prakar ke hote hai सबसे आसान योगा कौन सा है? Sabse aasan yoga kaun sa hai, प्रेगनेंसी में किस प्रकार का योगा करना चाहिए? Best yoga poses for pregnancy इत्यादि.

वैसे तो योगा अपने आप में ही व्यायाम है लेकिन कुछ योगा ऐसे हैं जो आप अपने मन और शरीर की शांति के लिए ज़रूर होते हैं. योगा कई तरह के होते हैं जिनमे योगा में चार प्रमुख तत्व होते हैं Types of yoga in hindi:

  1. प्राणायाम
  2. आसन
  3. मेडिटेशन
  4. रिलेक्सेशन

हर तरह का योगा दूसरे से अलग होता है क्योंकि इन सभी तत्वों पर अलग तरह से ज़ोर दिया जाता है. अष्टांग को योगा का विशुद्ध रूप माना जाता है. ज़्यादातर योगा अष्टांग पर आधारित हैं.

योगा बहुत से हो सकते हैं जिनमे प्रमुख हैं- हठ योगा, आनंद योगा, सम्पूर्ण योगा, सिवानन्द योगा, विनी योगा, भक्ति योगा, कुंडलिनी योगा. ये योगा कोई भी अपना सकता है. कोई भी प्रेग्नेंटऔरत कर सकती है (Yoga for pregnant women). लेकिन कुछ योगा हैं जिनको प्रेगनेंसी में नहीं करना चाहिए.

प्रेगनेंसी में किस प्रकार का योगा नहीं करना चाहिए? Yoga not good for pregnancy

आयंगर योगा, पावर योगा और बिक्रम योगा. ये 3 योगा हैं जिनको किसी भी प्रेग्नेंट औरत को प्रेग्नेन्सी के दौरान नही करना चाहिए.

पर्याप्त पानी पीएं- Pani Peene Ke Fayde

पर्याप्त पानी पीएं - Hindidainik com

सबसे अहम सवाल जो लोग अक्सर पूछते हैं की एक स्वस्थ इंसान को कितना पानी पीना चाहिए Har din kitna pani piye? एक स्वस्थ इंसान को प्रतिदिन 2 से 3 लीटर पानी पीना चाहिए. पानी पीने के बहुत से फ़ायदे (Pani peene ke fayde) होते हैं जैंसे की पाचन अच्छा होता है, गर्मियों में डी-हाइडरेशन नही होता, पेट से रिलेटेड प्रॉब्लम्स नही होती. सुबह उठते ही खाली पेट पानी पीना चाहिए जिसस आपका पेट साफ रहता है.

पर्याप्त पानी पीने से सेहत से जुड़ी कई प्रॉबल्म दूर रहती है और व्यक्ति हमेशा स्वस्थ रहता है. इसके अलावा हर दिन पर्याप्त पानी पीने से चेहरे नैचुरली ग्लो बना रहता है. पानी पीने से ब्लड सॉफ रहता है और मुहासे, पिंपल्स जैसी समस्या भी दूर हो जाती है.

प्रैग्नेंसी के दौरान गर्म पानी पीने के फायदे

Pregnancy mein garam Pani Pine ke fayde

लोग अक्सर पूछते हैं की क्या प्रेग्नेन्सी में गरम पानी पीना चाहिए Pregnancy mein garam pani pina chahiye? जी हाँ. गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से महिलाओं का शरीर हाइड्रेट और एनर्जी से भरपूर रहता है, साथ ही इससे शरीर से सारे टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते हैं. डॉक्टर भी प्रैग्नेंट महिला को प्रतिदिन खूब सारा पानी पीने की सलाह देते हैं. प्रैग्नेंट महिला के लिए रोजाना गर्म पानी का सेवन भी काफी फायदेमंद साबित होता है इससे शिशु का स्वास्थ्य भी ठीक रहता है.

पर्याप्त नींद लें- Kitne Ghante Sona Chahiye

पर्याप्त नींद लें- Hindidainik.com

नीद को लेकर भी लोगों के अलग अलग सवाल होते हैं जैसे की रात को कितने बजे सोना चाहिए? नींद न आने पर क्या करना चाहिए? सोने का सही समय क्या है? कितनी नींद जरूरी? स्टूडेंट को कितने घंटे सोना चाहिए? रात को कितने बजे सोना चाहिए इत्यादि. ऐसे सवालों का एक ही जबाब है रात में 9 से 10 बजे के बीच में सो जाना चाहिए और सुबह 6 बजे तक बिस्तरछोड़ देना चाहिए. हर एक इंसान को भरपूर नीद लेनी चाहिए. कम से कम 6 घंटे की नीद हर किसी को लेनी चाहिए अगर नीद पूरी नही होगी तो आप स्वस्थ महसूस नही कर सकते.

टेंशन से दूर रहें

Tension Kam Karne Ke Gharelu Upay

Tension kam karne ka upay hindi mai

तनाव कहो या स्ट्रेस या फिर टेंशन शब्द अलग हैं लेकिन मतलब एक ही है. तनाव (टेंशन) किसी भी इंसान के सोचने की छमता को कम करता है जिससे इंसान डिप्रेशन में चला जाता है. टेंशन किसी के लिए भी सही नही है चाहे वो स्टूडेंट हो या कोई बिजनेस मैन या कोई भी जॉब करना वाला व्यक्ति.तनाव कम कैसे करे. लोग हमेशा यही सोचते हैं की टेंशन कम कैसे करे tension kam kaise kare? टेंशन कम करने का उपाय tension kam karne ka upay? टेंशन कम करने के लिए योगा tension kam karne ke liye yoga? टेंशन कम करने के टिप्स tension kam karne ke tips? ऐसे सवालों का जबाब भी खुद सवाल में मिल जाता है अगर आप समय और काम का सही से उपयोग करते हो और दोनो में तालमेल बैठा लेते हो तो हर हरह के टेंशन का आपको हल ज़रूर मिल जाएगा. अगर जॉब से रिलेटेड टेंशन है तो उसको जॉब टाइमिंग में ही सोल्व करने की कोशिस करें ना की उसको लेकर घर जायें और टेंशन को अपने उपर हावी होने दें. ज़्यादा सोचने से बचें. दिमाग़ को फ्री रखें, नयी और इंट्रेस्टिंग चीज़ों में अपने आपको बिज़ी रखें. टेंशन अपने आप कम होने लगेगा और आप लाइफ एंजाय करने लगेंगे. ये ही टेंशन कम करने के प्रमुख उपाय हैं जिनको आप कभी भी ट्राइ कर सकते हैं.

उम्मीद है हमारी पोस्ट “स्वस्थ कैसे रहें” “स्वस्थ रहने के आसान उपाय“, “स्वस्थ रहने का मंत्र”, “स्वस्थ रहने के लिए दिनचर्या”, “स्वस्थ रहने के देसी नुस्खे”, और “स्वस्थ रहने के लिए टिप्स”. आपको पसंद आई होगी. कॉमेंट कर ज़रूर बतायें.

COMMENTS

  • sumit

    आपकी पोस्ट बहुत ही जानकारी से भरी हुई थी | आपकी स्वास्थ्य समाचार , फिटनेस सलाह बहुत ही जानकारी पूर्ण है| धन्यवाद!!!

  • Tinku Sharma

    bahut hi achhi jaankari di hai aapne…bahut hi achhe se aapne bataya hai ki swasth rahne ke liye kya karna chahiye..thanks.

Leave a Comment